निराश्रित व्यक्तियों को आश्रय हेतु तेज़ी से बनाये जा रहे हैं शेल्टर होम, 28 शेल्टर होम पूर्ण

0

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजीव कुमार ने निर्देश दिये हैं कि राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत प्रदेश के चयनित 130 शहरों में शहरी निराश्रित व्यक्तियों को सशक्त बनाने हेतु कौशल विकास योजना, स्वरोजगार हेतु अनुदानित ऋण, स्वयं सहायता समूहों का गठन कर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने, शहरी पथ विक्रेताओं का सर्वे कर उनको अपना कार्य करने हेतु उपयुक्त स्थल दिलाना एवं शहरी बेघरों को रात्रि विश्राम हेतु आश्रय स्थल (शेल्टर होम) का निर्माण आदि कार्य प्राथमिकता से कराकर वर्तमान वित्तीय वर्ष में लक्षित लक्ष्य को प्रत्येक दशा में पूर्ण कराना होगा।
उन्होंने कहा कि निराश्रित गरीब लोगों को 89 लक्षित शेल्टर होम में से 28 पूर्ण हो जाने के फलस्वरूप शेष 61 निर्माणधीन शेल्टरहोमों में से 26 शेल्टर होमों का निर्माण कार्य वर्तमान माह के अन्त तक तथा अवशेष 35 शेल्टर होमों का निर्माण कार्य यथाशीघ्र निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराया जाये।
उन्होंने कहा कि नगरों के निराश्रित व्यक्तियों के लिये संचालित 05 आश्रय स्थल (शेल्टर होम) में आश्रय पाने वाले गरीब तबके के लोगों को आवश्यक बुनियादी सुविधायें अवश्य उपलब्ध करायी जायें। उन्होंने कहा कि स्वरोजगार हेतु अनुदानित दिये जाने वाले ऋण के 10 हजार लक्षित लक्ष्य को पारदर्शिता के साथ पात्र व्यक्तिगत शहरी गरीब एवं समूह शहरी गरीब को दिलाया जाना सुनिश्चित किया जाये।
मुख्य सचिव ने आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष हेतु निर्धारित लक्ष्यों का अनिवार्य रूप से पूर्ण किया जाये और मलिन बस्तियों में इन-सीटू विकास कर लाभार्थियों की सुविधा के अनुसार नियमानुसार आवास मुहैय्या कराया जाये।
श्री राजीव कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत महिलाओं के गठित किये जा रहे स्वयं सहायता समूह को हैण्ड-होल्डिंग सपोर्ट हेतु संस्थाओं/संस्थानों का सहयोग लिया जाये, ताकि गठित स्वयं सहायता समूह को निरन्तर कार्य करने में आवश्यक मदद मिलती रहे।
उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत चयनित नगरों को निर्धारित परियोजनाओं से सम्बन्धित कार्यों को शीघ्र आरंभ कराया जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत सौर ऊर्जा, इन्टीग्रेटेड टैªफिक मैनेजमेन्ट सिस्टम व अन्य सूचना प्रौद्योगिकी आधारित क्रिया-कलापों के सम्बन्ध में स्मार्ट सिटी एस0पी0वी0 के अध्यक्ष एवं अन्य अधिकारियों की एक कार्यशाला शीघ्र आयोजित कराई जाये।
बैठक में प्रमुख सचिव, नगर विकास श्री मनोज कुमार सिंह तथा प्रमुख सचिव, आवास एवं शहरी नियोजन श्री मुकुल सिंघल सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Source:http://upnews360.in/newsdetail/90133/hi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here