व्यापार सुगमता सर्वे में भारत की स्थिति सुधरने की उम्मीद

0

सरकार के विभिन्न क्षेत्रों में किये गये सुधार से विश्वबैंक की कारोबार सुगमता रिपोर्ट में भारत की रैंकिंग में सुधार आने की उम्मीद है। एक शीर्ष अधिकारी ने आज यह कहा।वर्ष 2018 के लिये विश्वबैंक की कारोबार सुगमता व्यापार सर्वेक्षण रिपोर्ट 31 अक्तूबर को जारी होने वाली है।औद्योगिक नीति एवं संवर्द्धन विभाग (डीआईपीपी) के सचिव रमेश अभिषेक ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘हमने काफी मेहनत की है और इसीलिए हम रैंकिंग में सुधार की उम्मीद कर रहे हैं।’’ उनसे यह पूछा गया था कि क्या विश्वबैंक की आगामी रिपोर्ट में देश की रैंकिंग सुधरेगी।उन्होंने कहा, ‘‘विश्व बैंक की कारोबार सुगमता रिपोर्ट 31 अक्तूबर को आने वाली है और हमें उल्लेखनीय सुधार की उम्मीद करते हैं। इसका कारण बड़ी संख्या में सुधार कार्यक्रमों को आगे बढ़ाना है।’’ वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने भी हाल में यही संकेत दिया था। उन्होंने कहा कि देश को कारोबार सुगमता के मोर्चे पर जल्दी ही अच्छी खबर सुनने को मिल सकती है।कारोबार सुगमता सर्वे को प्रतिभागी देश गंभीरता से लेते हैं क्योंकि उनका मानना है कि यह विदेशी निवेशकों को निवेश गंतव्य के बारे में निर्णय करने में मदद करता है।डीआईपीपी सचिव ने कहा कि पिछले साढ़े तीन साल में देश में 170 अरब डालर का विदेशी निवेश आया है।

NewsSource:पीटीआई-भाषा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here